NEWS AND ARTICLES

महाराष्ट्र में तेज हुई सियासी हलचल, उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से बात की

Jan, 16 2020

11 November 2019 

मुंबई: महाराष्ट्र में सरकार पर सस्पेंस अब लगता है जल्द ही खत्म होने वाला है क्योंकि गैर बीजेपी सरकार बनाने की दिशा में शिवसेना आज बड़ा फैसला कर सकती है. जानकारी के मुताबिक शिवसेना एनडीए से गठबंधन की गांठ खोल सकती है. जिसके बाद उसे कांग्रेस और एनसीपी का समर्थन मिल सकता है आज शाम 7.30 बजे तक शिवसेना को राज्यपाल को अपना जवाब देना है क्योंकि बीजेपी के सरकार बनाने से इनकार के बाद राज्यपाल ने शिवसेना को सरकार बनाने का न्योता दिया है. बीजेपी के सरकार ना बनाने के एलान के बाद शिवसेना के नेताओं ने इशारों में कहा कि एनसीपी और कांग्रेस सीएम के लिए शिवसेना को समर्थन का एलान करें. इसके लिए एनसीपी ने शर्त रखी थी कि शिवसेना को एनडीए से अपना नाता पूरी तरह तोड़ना होगा. 

शिवसेना की सरकार बनाने के बड़े सूत्रधार बने संजय राउत के आज मुंबई में शरद पवार से भी मुलाकात की खबर है. इसके बाद संजय राउत दिल्ली भी जाएंगे जहां कांग्रेस के नेताओं से मुलाकात मुमकिन है. उधर मुंबई में उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री पर बीती रात 4 घंटे की लंबी बैठक चली जिसमें उद्धव ठाकरे और आदित्य ठाकरे के अलावा शिवसेना के बड़े नेता शामिल थे.

  • महाराष्ट्र में सत्ता का संघर्ष चरम पर, 4 पार्टियां-4 बैठक, कौन बनाएगा सरकार?

  • मुंबई: महाराष्ट्र में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच अब सरकार बनने का रास्ता साफ होता हुआ दिखाई दे रहा है. 56 सदस्यों वाली शिवसेना एनसीपी की मदद से सरकार बनाने का दावा पेश कर सकती है. इसके लिए शिवसेना को एनसीपी की शर्तें माननी होंगी. वैकल्पिक फार्मूले के तहत शिवसेना को केंद्रीय मंत्रिमंडल से हटना होगा. शिवसेना भी एनडीए से अलग होने को तैयार है. सूत्रों के मुताबिक, शिवसेना नेता संजय राउत आज शरद पवार से मुलाकात करेंगे. इसके बाद वो सोनिया गांधी से भी मिल सकते हैं. कहा तो ये भी जा रहा है कि उद्धव ठाकरे भी सोनिया गांधी से फोन पर बात कर सकते हैं. अब अगर 44 सीटों वाली कांग्रेस भी एनसीपी के साथ शिवसेना को समर्थन देने पर मुहर लगा देती है तो सरकार गठन का रास्ता साफ हो सकता है. 

  • 30 साल पुरानी दोस्ती का 'दि एंड', जानें- कैसे बिना बीजेपी के शिवसेना बना सकती है सरकार

  • महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर हलचल तेज हो गई है. राज्यपाल की ओर से शिवसेना को सरकार बनाने के लिए पूछा गया है, जिसके बाद अब बैठकों का दौर शुरू हो गया है. राज्य में सरकार गठन के लिए आज का दिन अहम हो सकता है. शिवसेना के विधायकों की बैठक के अलावा आज NCP-कांग्रेस की भी कोर कमेटी की बैठक होनी है, जिसमें राजनीतिक हालात पर चर्चा संभव है. साथ ही भाजपा ने भी एक बार फिर बैठक बुलाई है.

  • शिवसेना: राज्यपाल को पार्टी को आज शाम तक जवाब देना है, इससे पहले शिवसेना विधायक आज सुबह बड़ी बैठक करेंगे. इसमें पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे भी शामिल हो सकते हैं. 

  • एनसीपी: राज्य में सरकार गठन के लिए अहम धुरी बनकर उभरी एनसीपी ने भी अहम बैठक बुलाई है. एनसीपी ने शिवसेना के सामने शर्त रखी थी कि अगर वह बीजेपी का साथ छोड़ती है तो वह सरकार पर विचार करेगी, जो शिवसेना ने मान लिया है. अब एनसीपी कोर कमेटी की बैठक होगी, जिसमें शरद पवार भी हिस्सा लेंगे.

  • कांग्रेस: महाराष्ट्र में भाजपा के सत्ता की रेस से बाहर होने के बाद विपक्षी पार्टियों के लिए एक उम्मीद जगी है. इसमें कांग्रेस की भूमिका अहम हो सकती है. महाराष्ट्र के कांग्रेस विधायकों ने सरकार का हिस्सा होने की इच्छा जताई है, लेकिन फैसला हाईकमान को लेना है. इसी को लेकर दिल्ली में आज कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक है, जिसमें महाराष्ट्र को लेकर चर्चा हो सकती है. 

  • भाजपा: चुनावी नतीजों में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी भाजपा ने सरकार बनाने से मना कर दिया है. इस बारे में बीजेपी की ओर से राज्यपाल को सूचित कर दिया गया है. अब आज की राजनीतिक हलचल के बीच देवेंद्र फडणवीस के घर एक बार फिर बीजेपी कोर ग्रुप की बैठक होने जा रही है, जिसमें नई रणनीति पर चर्चा हो सकती है.

Leave Comments