NEWS AND ARTICLES

जम्मू-कश्मीर और लद्दाख आधी रात से बने केंद्र शासित प्रदेश

Jan, 15 2020

31 October 2019

नई दिल्‍ली: जम्मू-कश्मीर और लद्दाख आज से देश के दो नए केंद्र शासित राज्य बन गए. इस बदलाव के साथ में भारत में अब कुल 28 राज्य और नौ केंद्र शासित प्रदेश हो गए हैं. केंद्र शासित प्रदेश बनते ही अब जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में केंद्र की सभी योजनाएं लागू की जा सकेंगी. अब इन जगहों पर रनबीर पेनल कोड की जगह आईपीसी और सीआरपीसी की धाराएं काम करेंगी. केंद्र सरकार ने ये भी साफ कर दिया है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख क्षेत्र में जो मौजूदा साढ़े तीन लाख सरकारी कर्मचारी काम कर रहे हैं, वो आने वाले कुछ महीनों तक मौजूदा व्यवस्था के तहत ही अपने-अपने इलाकों में काम करते रहेंगे. केंद्र सरकार के मुताबिक दोनों नए केंद्र शासित राज्यों में बदलाव की ये प्रक्रिया बेहद सादगी भरे समारोह में होगी.

बेहद सादगी भरे समारोह के तहत आज लेह में लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश के पहले उप-राज्यपाल राधा कृष्ण माथुर ने शपथ ग्रहण कर ली. वहीं, श्रीनगर में जम्मू-कश्मीर केंद्र शासित प्रदेश के पहले उप-राज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू ने अपना पदभार संभाल लिया. जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में अब सभी सरकारी कामकाज उर्दू के बजाय हिंदी में होगा.

Leave Comments