NEWS AND ARTICLES

जम्मू कश्मीर में हिरासत में रखे गए नेताओं पर अमित शाह बोले- छोड़ने का निर्णय स्थानीय प्रशासन ही लेगा

Dec, 11 2019

10 December 2019

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाए चार महीने से अधिक समय हो चुका हैं. इस फैसले के मद्देनजर हिरासत में लिए गए मुख्यधारा के नेताओं को अब तक रिहा नहीं किया गया है. विपक्षी पार्टियां लगातार इस पर सवाल उठा रही हैं. इसको लेकर लोकसभा में अमित शाह ने कहा, ''जम्मू-कश्मीर में हिरासत में लिए गए नेताओं को छोड़ने का निर्णय स्थानीय प्रशासन की ओर से लिया जाएगा, और वहां के मामले में केंद्र सरकार दखल नहीं देगी.'' सदन में प्रश्नकाल के दौरान कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी के पूरक प्रश्न के जवाब में शाह ने मुख्य विपक्षी दल पर निशाना साधते हुए यह भी कहा कि जम्मू-कश्मीर की स्थिति सामान्य है, उन्होंने कहा कि कहा कि कांग्रेस के लोग कह रहे थे कि 370 हटाने पर खून खराबा हो जाएगा, लेकिन वहां एक गोली भी नहीं चली.

दरअसल, कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने सवाल किया था कि जम्मू-कश्मीर में फारूक अब्दुल्ला और दूसरे नेताओं को कब रिहा किया जाएगा और क्या वहां राजनीति गतिविधि बहाल है ? इससे पहले गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि पड़ोसी देश पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर को लेकर गलत प्रचार कर रहा है, लेकिन सरकार वहां स्थिति सामान्य बनाए रखने को लेकर प्रतिबद्ध है.

Leave Comments